Freak Trade Meaning In Hindi

Freak Trade Meaning In Hindi |Freak Meaning In Hindi

Freak Trade Meaning In Hindi | Freak Meaning In Hindi

Freak Trade Introduction

आजकल भारतीय बाजार के फ्यूचर और ऑप्शन सिग्मेंट में फ्रीक ट्रेड की संख्या बढ़ते जा रही है।

कुछ ट्रेडर्स ऐसा दावा करते हैं कि ऑप्शन का या फ्यूचर का प्राइस बिना उस लेवल तक गए हीं, उनके ट्रेड का स्टॉपलॉस कट गया।

जब तक किसी भी ऑप्शन या फ्यूचर का प्राइस एक निश्चित स्तर तक नहीं जाता है|

ट्रेड का एग्जीक्यूशन नहीं होता है। लेकिन इस तरह के रिपोर्ट बढ़ने की क्या वजह है?

इसका सीधा सा जवाब है freak trade.

Freak Trade Meaning In Hindi

Freak Trade Kya Hai?

Freak Trade Meaning In Hindi
Freak Trade Meaning In Hindi

Freak Trade,यह आमतौर पर गलत ट्रेड होता है। इसे रेडफिंगर ट्रेड के नाम से भी जाना जाता है। जब भी गलत एंट्री के कारण कोई ट्रेड होता है तो उसे फ्रीक ( Freak) ट्रेड कहा जाता है।

इसमें किसी शेयर के फ्यूचर अथवा option का price अचानक से अकल्पनीय लेवल तक बढ़ जाता है, जिससे ट्रेडर को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है।

उदाहरण -मान लेते हैं आपने किसी निफ्टी के ऑप्शन को ₹100 पर बेचा है और आपने स्टॉप लॉस नहीं लगाया।

और उस ऑप्शन का प्राइस बढ़कर ₹800 हो जाता है।

ऐसे में आप को भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

ऐसे मै आपको अनगिनत नुकसान हो सकते हैं।

अगर आपने इसका स्टॉप लॉस ₹200 के आसपास लगाया है। ऐसे में यहां आपका स्टॉप लॉस कटने की ज्यादा उम्मीद है।

आपका लॉस सीमित है परंतु दोगुनी है जो कि ट्रेडिंग के लिहाज से बिल्कुल सही नहीं है।

फ्रीक (Freak) ट्रेड बढ़ने के कारण Reason of increasing freak trade

अगस्त के आसपास NSE ने trade execution range को खत्म कर दिया।जिससे शेयर के ट्रेड होने का दायरा खत्म हो गया। अब शेयरों के भाव का कोई रेंज नहीं रहा। यह एक अनुमानित कारण है जिससे फ्री ट्रेड बढे हैं।

आइए देखते हैं कुछ उदाहरण जब फ्रीक ट्रेड ने ट्रेडर्स का भारी नुकसान कराएगा।

Freak Trades Examples

Freak Trades Examples 1.(उदाहरण 1-)

20 अगस्त 2021 की घटना है। निफ्टी के 20 अगस्त की एक्सपायरी का 16450 के कॉल ऑप्शन का प्राइस ₹135 से बढ़कर ₹800 हो गया।

इस ऑप्शन के प्राइस में करीब 800% की बढ़ोतरी कुछ चंद् सेकंड में देखने को मिली।

इस Freak Trade से ऑप्शन ट्रेडर को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा।

Freak Trades Examples 2. (उदाहरण 2-)

यह घटना है 14 सितंबर 2021 की।

इस दिन एचडीएफसी बैंक एचडीएफसी भारतीय एयरटेल रिलायंस तथा टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज के फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट में लगभग 10% की अचानक बढ़ोतरी देखने को मिली।

एचडीएफसी के सितंबर एक्सपायरी का फ्यूचर कांट्रैक्ट लगभग 3100 के स्तर को छू गया।

जबकि एचडीएफसी का स्पोर्ट प्राइस लगभग 2800 पर ट्रेड कर रहा था।

इसी तरह की घटनाएं रिलायंस भारती एयरटेल तथा टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट मैं देखने को मिली।

यह बढ़ोतरी बाजार के शुरुआती समय में कुछ चंद सेकेंड के लिए देखने को मिली। यह फ्रीक ट्रेड का एक ताजा उदाहरण है।

Freak Trades Ke Nuksan

फ्रीक ट्रेड से ट्रेडर्स के स्टॉप लॉस कटने की ज्यादा संभावना होती है। बहुत सारे ट्रेडर्स बाजार में स्टॉप लॉस मार्केट ऑर्डर लगाते हैं।

फ्रीक ट्रेड में मार्केट ऑर्डर स्टॉप लॉस लगाने वाले ट्रेडर्स को भारी नुकसान का सामना करना पड़ता है।

क्योंकि जब स्टॉप लॉस मार्केट आर्डर लगाया जाता है तो यह स्टॉप लॉस तब कटता है जब प्राइस उस स्टॉप लॉस ऑर्डर के प्राइस पर ट्रेड करें।

अगर प्राइस अचानक स्टॉप लॉस ऑर्डर के काफी दूर ट्रेड  करने लगा तो स्टॉप लॉस मार्केट आर्डर उसी प्राइस पर स्टॉप लॉस काटता है।

उदाहरण -मान लेते हैं आपने NIFTY के किसी ऑप्शन को ₹100 पर  बेचा है, अचानक उस ऑप्शन का प्राइस 500 हो जाता है जोकि  फ्रीक ट्रेड में अक्सर होता है ऐसे में आपका स्टॉप लॉस ₹500 पर कटेगा|

इसके लिए कई कारक जिम्मेदार हैं।

फ्रीक ट्रेड के कारण (Reason Of Freak Trades)

Freak Trade Meaning In Hindi
Freak Trade Meaning In Hindi

फ्री ट्रेड के मुख्य रूप से तीन कारण हो सकते हैं|

  मैनिपुलेशन

 टेक्निकल खामियां

 मानव से संबंधित कारण -यह घटना 2012 की है जब एक  ट्रेडिंग ब्रोकरेज फर्म ने प्राइस और मूल्यों के कॉलम को मिक्स कर दिया| 

ऐसे में फर्म ने लगभग 650 सौ करोड़ वैल्यू के निफ़्टी स्टॉक को सेल आर्डर में डाल दिया|

इस गलती के कारण निफ्टी का प्राइस अचानक 15% गिर गया| यह एक फ्रीक ट्रेड का उदाहरण था|

फ्रीक ट्रेड से बचाव के उपाय-

Freak Trade Meaning In Hindi
Freak Trade Meaning In Hindi

(Freak Trade Meaning In Hindi)

  1.  लिमिट ऑर्डर का प्रयोग-जब भी आप शेयर को खरीदें या बेचे लिमिट ऑर्डर का प्रयोग करें| 

 उदाहरण- मान लेते हैं आप किसी निफ्टी के ऑप्शन को ₹100 पर खरीदना चाहते हैं|

अगर आपको ऐसा लगता है कि अगर मार्केट  ऑर्डर नहीं लगाएंगे तो  यह  अवसर छूट जाएगा|

तो ऐसी स्थिति में ₹101 पर लिमिट आर्डर लगा दे|

 ऐसे में आप का ऑप्शन लगाए हुए लिमिट ऑर्डर से अधिक प्राइस एग्जीक्यूट नहीं होगा|

अगर कोई फ्रीक ट्रेड की संभावना बनती भी है तो भी आपको ऑप्शन ₹101 पर  ही मिलेगा|

Freak Trade Meaning In Hindi
Freak Trade Meaning In Hindi

  ऑप्शन को बेचते समय भी  लिमिट ऑर्डर का प्रयोग करें| जो भी लास्ट  ट्रेडेड प्राइस LTP  चल रहा हो उससे नीचे लिमिट आर्डर लगा दे|

 भूलकर भी मार्केट ऑर्डर का प्रयोग ना करें| 

2.लिमिट ऑर्डर स्टॉप लॉस का प्रयोग-(Freak Trade Meaning In Hindi)

अगर फ्यूचर या ऑप्शन के किसी कॉन्ट्रैक्ट में आपको स्टॉपलॉस लगाना हो तो आप उसे लिमिट ऑर्डर स्टॉप लॉस लगाएं| स्टॉप लॉस मार्केट ऑर्डर ना लगाएं|

हालांकि एक्सचेंज ने स्टॉप लॉस मार्केट ऑर्डर को बंद कर दिया है| ऐसा फ्री ट्रेड को देखते हुए हैं निर्णय लिया गया है |

  1. शुरुआती मार्केट में 9:30 से पहले  ट्रेड करने से बचें| मार्केट ऑर्डर बिल्कुल न लगाएं|
  2. जब भी स्टॉप लॉस लगाएं ट्रिगर प्वाइंट और स्टॉप लॉस के बीच रेंज को बड़ा रखें|
Freak Trade Meaning In Hindi
Freak Trade Meaning In Hindi

 कहने का मतलब है, अगर आप ₹101 पर स्टॉपलॉस लगाना चाहते हैं तो उसे 99 और 101 के रेंज में  लगाएं|

  1. ज्यादातर फ्रीक ट्रेड आउट ऑफ द मोनी ऑप्शन में देखने को मिले हैं उनमें ट्रेड करने से बचें|

 निष्कर्ष:

Freak Trade Meaning In Hindi, बढ़ते हुए  फ्रीक ट्रेड की  नुकसान से बचने के लिए ट्रेडर कुछ चीजों को सुधार कर अपना नुकसान कम कर सकते हैं|

मार्केट ऑर्डर लगाने से बचें| हमेशा लिमिट आर्डर का प्रयोग करके  शेयर को, ऑप्शन को, या फ्यूचर कांट्रैक्ट को खरीदें या बेचे|

अवसर  खोने के डर से बचें| बाजार चलता रहेगा 1 दिन का नहीं है|

आज अवसर खो दीजिएगा कल  फिर अवसर मिलेगा| ट्रेड में जल्दबाजी न करें,क्योंकि आप का कैपिटल बहुत महत्वपूर्ण है| आपके लॉन्ग टर्म  ट्रेडिंग कैरियर के लिए| जल्दबाजी में उसे ना गवाएं|

 धन्यवाद 

Frequently Asked Questions (FAQ )

[sc_fs_multi_faq headline-0=”h2″ question-0=”Freak Trade Kya Hai?” answer-0=”Freak Trade,यह आमतौर पर गलत ट्रेड होता है। इसे रेडफिंगर ट्रेड के नाम से भी जाना जाता है। जब भी गलत एंट्री के कारण कोई ट्रेड होता है तो उसे फ्रीक ( Freak) ट्रेड कहा जाता है।” image-0=”” headline-1=”h2″ question-1=”फ्रीक (Freak) ट्रेड बढ़ने के कारण क्या है?” answer-1=”फ्री ट्रेड के मुख्य रूप से तीन कारण हो सकते हैं| मैनिपुलेशन टेक्निकल खामियां मानव से संबंधित कारण ” image-1=”” headline-2=”h2″ question-2=”स्टॉक मार्केट में फ्रीक ट्रेड क्या होता है?” answer-2=”फ्रीक ट्रेड आमतौर पर गलत ट्रेड होता है। इसमें किसी फ्यूचर अथवा ऑप्शन का मूल्य अचानक से अकल्पनीय लेवल तक बढ़ जाता है। ऐसा बाजार में गलत एंट्री के कारण होता है।” image-2=”” headline-3=”h2″ question-3=”Freak Trade se kaise Bachhe?” answer-3=”1.लिमिट ऑर्डर का प्रयोग 2.लिमिट ऑर्डर स्टॉप लॉस का प्रयोग 3.शुरुआती मार्केट में 9:30 से पहले ट्रेड करने से बचें| मार्केट ऑर्डर बिल्कुल न लगाएं| 4.जब भी स्टॉप लॉस लगाएं ट्रिगर प्वाइंट और स्टॉप लॉस के बीच रेंज को बड़ा रखें|” image-3=”” headline-4=”h2″ question-4=”फ्रीक ट्रेड के नुकसान क्या है?” answer-4=”फ्रीक ट्रेड से ट्रेडर्स के स्टॉप लॉस कटने की ज्यादा संभावना होती है। बहुत सारे ट्रेडर्स बाजार में स्टॉप लॉस मार्केट ऑर्डर लगाते हैं। फ्रीक ट्रेड में मार्केट ऑर्डर स्टॉप लॉस लगाने वाले ट्रेडर्स को भारी नुकसान का सामना करना पड़ता है।” image-4=”” headline-5=”h2″ question-5=”फ्रीक ट्रेड Nifty में कब हुआ?” answer-5=”यह घटना 2012 की है जब एक ट्रेडिंग ब्रोकरेज फर्म ने प्राइस और मूल्यों के कॉलम को मिक्स कर दिया| इस गलती के कारण निफ्टी का प्राइस अचानक 15% गिर गया|” image-5=”” count=”6″ html=”true” css_class=””]

Freak Trade Meaning In Hindi Pdf-Download

LOVE TO READ-

CMS info system share target 2022

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top